अगर शायरी में इश्क लिखता हूँ तो चाहत साँस लेती है… हमारी धड़कनो में खुद तेरी मोहब्बत साँस लेती है

अगर शायरी में इश्क लिखता हूँ तो चाहत साँस लेती है… हमारी धड़कनो में खुद तेरी मोहब्बत साँस लेती है